Ultimate magazine theme for WordPress.

देव दीपावली : काशी के देव दीपावली का हुआ भव्य आयोजन, दशाश्वमेध घाट पर हुई महाआरती 

0

वाराणसी। पुरे विश्व में प्रसिद्ध काशी की देव दीपावली की अद्भुत छठा देखने के लिए देश ही नहीं विदेशो से भी लोग जुटते है।  देश के प्रधानमंत्री और वाराणसी के सांसद नरेंद्र मोदी भी आज देव दीपावली में शामिल होने के लिए वाराणसी पहुचे है। पीएम मोदी ने भी नौका विहार करते हुए काशी की प्रकाशमान  की छटा का नजारा लिया।वही बाबा भोलेनाथ  की नगरी काशी में देवताओं की दीपावली से पहले मां गंगा की विश्वप्रसिद्ध आरती और अमर जवान ज्योति पर शहीदों को नमन किया। गंगा तट पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद मां गंगा की अलौकिक आरती और उसके बाद दीपो से टिमटिमाते घाटों पर आतिशबाजी का नाजारा देखते ही बन रहा है।

भगवान शि‍व के इस शहर में हर साल कार्ति‍क पूर्णि‍मा की शाम पूरी भव्‍यता के साथ देव दीपावली का महापर्व मनाया जाता है। मान्‍यता है कि‍ प्रबोधि‍नी एकादशी के दि‍न चार महीने की योग नि‍द्रा से जागने के बाद भगवान श्रीहरि‍ वि‍ष्‍णु और 33 कोटि‍ देवता गण भोलेनाथ की नगरी काशी में गंगा घाट पर दीपावली मनाने उतरते हैं। इस पुण्‍य अवसर पर जैसे ही आकाश में भगवान भास्‍कर अस्‍त होते हैं देवाधि‍देव महादेव काशी वि‍श्‍वनाथ के माथे की शोभा बढ़ाने वाले काशी के अर्द्धचंद्राकार घाटों की आठ कि‍लोमीटर लंबी श्रृंखला लाखों दीयों की रोशनी से जगमग हो जाती है।

वाराणसी में देव दीपावली का पर्व सदि‍यों से मनाया जाता रहा है, मगर पि‍छले दो दशक से घाटों पर असंख्‍य दीये जलाकर इस पर्व को और भी अलौकि‍क रूप दे दि‍या गया है। दोपहर के बाद से ही देश वि‍देश से लाखों की संख्‍या में पर्यटक और वाराणसी के लोग घाट पर पहुंचते हैं और यहां दीये जलाते हैं। असंख्‍य दीयों की टि‍मटि‍माहट ऐसी छटा बि‍खेरती है मानो हमारी आकाशगंगा के तारे बनारस के घाटों पर उतर आये हों।प्रसिद्ध दशावश्मेध घाट पर आयोजित देवताओं को दीपावली से मां गंगा की आरती की गई। इस दैरान देवदीपावली को पूरी तरह राष्ट्र व सेना को समर्पित किया गया । दशाश्वमेघ घाट पर इंडिया गेट की अनुकृति बनाई गई । तीनो सेनाओं के साथ पुलिस के जवानों द्वारा दीपप्रज्जवल किया गया।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.