Ultimate magazine theme for WordPress.

Varanasi : हिन्दू जनजागृति समिति ने गृह मंत्री से की मांग, दिल्ली और केरल में हुई हत्याओं की जांच CBI को सौंपी जाए

0

वाराणसी। दिल्ली और केरल सहित संपूर्ण देश में कुछ वर्षों में हुई हिन्दुओं की हत्याओं के सूत्रधार, सम्मिलित अपराधी, इन हत्याओं में सहायता करनेवाले धर्मांधों पर तथा ये प्रकरण दबाने का प्रयत्न करने वाले पुलिस और राजनीतिक नेताओं को खोजकर उनपर कठोर कार्यवाही हो, ऐसी मांग करनेवाला निवेदन हिन्दू जनजागृति समिति द्वारा गृहमंत्री के लिए के लिए वाराणसी के जिलाधिकारी को सौंपा गया।

गत कुछ वर्षों में संपूर्ण देश में विभिन्न हिन्दुत्वादी संगठनों के नेता और कार्यकर्ताओं पर प्राणघातक आक्रमण करना, उन्हें जानबूझकर लक्ष्य बनाना तथा उन्हें चुनकर, उन पर नजर रखकर मार डालने की घटनाओं में अत्यधिक वृद्धि हुई है। कुछ समय पूर्व ही दिल्ली और केरल में हिन्दुओं की हत्याएं हुई हैं । इन हत्याओं के अपराधी ज्ञात होते हुए भी विभिन्न अन्वेषण तंत्रों को स्पष्ट होते हुए भी संबंधित राज्य शासन द्वारा इन प्रकरणों में ठोस कार्यवाही होती हुई दिखाई नहीं पडती। स्पष्ट दिखाई दे रहा है कि, संपूर्ण देश में हो रही हिन्दू नेताओं की ऐसी हत्या एक व्यापक सुनियोजित षड्यंत्र का भाग है।

 

 

राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं न्याय परिषद के वाराणसी महासचिव अधिवक्ता अरुण कुमार मौर्य, हिंदू जागरण मंच के जौनपुर जिला महामंत्री अधिवक्ता अनुराग पांडे, हिंदू जागरण मंच के वाराणसी महानगर मंत्री अधिवक्ता विकास तिवारी, अधिवक्ता मदन मोहन यादव, अधिवक्ता संजीवन यादव, अधिवक्ता मुकेश मिश्रा, अधिवक्ता रवि प्रकाश श्रीवास्तव, अधिवक्ता संदीप कुमार सिंह, अधिवक्ता श्याम जी वर्मा, हिंदू जनजागृति समिति के  राजन केशरी तथा अन्य उपस्थित थे।

 

 

 प्रकरणों की पूछताछ करने में राज्य शासन असफल सिद्ध होने के कारण इन आक्रमणों की घटनाओं की गहन जांच ‘केंद्रीय अन्वेषण तंत्र’ को दी जाए । इस जांच के लिए समयबद्ध कार्यक्रम निश्‍चित किया जाए तथा आवश्कतानुसार इसके लिए केंद्रीय स्तर पर एक विशेष समिति का गठन किया जाए।

2. संपूर्ण देश के हिन्दुत्वनिष्ठ नेताओं को तत्काल राज्य में और राज्य से बाहर सुरक्षा उपलब्ध करवाने के आदेश केंद्र शासन दे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.