Big NewsTopUP

अपनी शादी का कार्ड बांटकर लौट रहे जवान का एक्सीडेंट, मौत से मचा कोहराम

बलिया। सिकन्दरपुर थाना क्षेत्र में शुक्रवार को सड़क हादसे में सेना के उस जवान की मौत हो गई, जिसकी शादी 24 मई को ही थी। घटना उस वक्त हुई, जब जवान सगे-सम्बन्धियों को निमंत्रण देकर घर लौट रहा था। शादी से 10 दिन पहले दूल्हे की मौत से कोहराम मच गया है। परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल है।मां सुशीला देवी बेहाल है। परिजन बेसुध पड़े हुए हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के खरीद गांव निवासी पीएसी से रिटायर शिवजी यादव के पुत्र श्यामबाबू यादव (25) सेना में जवान थे। 2013 में आर्मी जॉइन करने वाले श्यामबाबू की तैनाती समय पंजाब में थी। श्यामबाबू की शादी तय थी। 20 मई को तिलक व 24 मई को निर्धारित शादी की तिथि को देखते हुए श्यामबाबू छुट्टी लेकर 12 मई को घर आ गये थे।घर में तैयारियां चल रही थी। श्यामबाबू भी अपने दोस्तों व नाते-रिश्तेदारों को निमंत्रण देने में जुटे थे।

गुरुवार की देर रात श्यामबाबू अपने भतीजे उमेश यादव (24) पुत्र देवनाथ यादव के साथ शादी का निमंत्रण कार्ड बांटकर घर लौट रहे थे। सिकन्दरपुर-मनियर मार्ग पर बसारीखपुर चट्टी के समीप उनकी कार असंतुलित होकर पेड़ से टकरा गई। हादसे में चाचा-भतीजा गंभीर रूप से घायल हो गये। दोनों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरपुर पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने श्याम बाबू को मृत घोषित कर दिया। वहीं, उमेश यादव को गंभीरावस्था में जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

सैनिक सेवा संस्थान ने कुछ यूं दी श्रद्धांजलि
दुर्घटना में मृत भारतीय सैनिक श्याम बाबू का शव पोस्टमार्टम के बाद जैसे ही सिकंदरपुर गांधी इंटर कॉलेज के पास पहुंचा सैनिक सेवा संस्थान ने उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी। संस्थान के लोग बाइकों से दरौली घाट तक तिरंगा लहराने के साथ ही भारत माता की जय के नारों के साथ ले गए, जहां देर शाम श्याम बाबू पंचतत्व में विलीन हो गए।

liveupweb
the authorliveupweb