Corona UpdateTopUPvaranasi

Varanasi : प्रशासन ने काशी में कोरोना कंट्रोल कर रफ्तार पर लगायी लगाम, रोजाना घट रही है संक्रमितों की संख्या

कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या में भी हो रही है बढ़ोतरी

वाराणसी। जिला प्रशासन ने काशी में कोरोना वायरस के संक्रमण को कंट्रोल कर उसके बढ़ते रफ्तार पर रोक लगा दी है। कोरोना से संक्रमितों की संख्या रोजाना जहां घट रही है, वही ठीक होने वाले लोगों की संख्या में भी रोजाना बढ़ोतरी हो रहा है। गौरतलब है कि संक्रमण की रफ्तार अप्रैल में रफ्तार पकड़ी और माह के मध्य में इसकी रफ्तार 25 से 30 फीसदी हो गई थी। जो अप्रैल के अंतिम सप्ताह में घटकर 15 से 20 फ़ीसदी तथा मई माह के शुरुआती सप्ताह में इससे भी नीचे जा रहा है। इसी के साथ दिन प्रतिदिन चिकित्सा व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त किये जाने का परिणाम रहा कि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में भी प्रति दिवस बढ़ोतरी हुई और मृत्यु दर में भी कमी आयी है।

कोरोना संक्रमण के चैन को तोड़ने में कोरोना कर्फ्यू एवं जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे जन जागरूकता अभियान ने भी अहम भूमिका निभाई है। कोरोना पर काबू पाने के लिये अस्पतालों व कोरोना मरीजो को चिकित्सा सुविधा संबंधी जानकारी एवं सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने में काशी कमांड रिस्पांस सेंटर (केसीआरसी) एवं नगर निगम का इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर ने भी इस कोरोना कॉल में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। कोरोना के मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत पूरा करने के लिए जहां पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट लगाकर उसे आत्मनिर्भर बनाया गया, वही श्री शिव प्रसाद गुप्त मण्डलीय चिकित्सालय एवं लाल बहादुर शास्त्री रामनगर चिकित्सालय में शीघ्र ही ऑक्सीजन प्लांट लगकर वह भी आत्मनिर्भर हो जाएगा।

इसके अलावा गत 8 वर्षो से बंद पड़े रोहनिया के दरेखू ऑक्सीजन प्लांट को शुरू कराकर ऑक्सीजन सिलेंडर उत्पादन में जिला प्रशासन ने सफलता प्राप्त की है। निश्चित रूप से कोरोना के मरीजों को और भी सुगमता से ऑक्सीजन प्राप्त होने लगा है। होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना के प्रारंभिक लक्षण वाले मरीजों को निशुल्क दवा वितरण भी किया जा रहा है। इसके साथ ही गांव-गांव में दवाओं का वितरण अभियान चलाकर कराया जा रहा है। कंटेनमेंट जोन एवं शहर के अन्य हिस्सों में नगर निगम द्वारा स्तर पर अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन कराए जाने का भी कार्य किया जा रहा है।

एमएलसी एके शर्मा, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा अधिकारियों के टीम के साथ रोजाना पूरी व्यवस्था पर नजर रखते हुए अस्पतालों का निरीक्षण कर मरीजों को दिए जा रहे चिकित्सा व्यवस्था स्वयं पर्यवेक्षण कर रहे हैं। इतना ही नहीं कोरोना के सभी सरकारी एवं निजी चिकित्सालय पर नोडल एवं प्रभारी अधिकारियों की तैनाती कर कोरोना मरीजों एवं उनके तीमारदारों को चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराए जाने के साथ ही अस्पतालों की व्यवस्था पर नजर रखवाया जा रहा है।

liveupweb
the authorliveupweb