AligadhBig NewsTopUP

Big News : अलीगढ़ पुलिस ने रेमडेसिविर किए बरामद, नकली सैनिटाइजर फैक्ट्री का पर्दाफाश, एक गिरफ्तार

अलीगढ़। कोरोना जैसी महामारी में भी लोग आपदा को अवसर बनाने में नहीं चूक रहे हैं। जिसका जहां दांव पड़ रहा है वहां वह इस महामारी से अपनी जेबें भरने में लगा हुआ है।जहा कोरोना की दूसरी लहर में फैली इस महामारी को देखते हुए इस रेमडे सिविर इंजेक्शन की लगातार डिमांड बढ़ गई है।तो लोगों ने इस रेमडे सिविर इंजेक्शन की बड़े पैमाने पर कालाबाजारी शुरू करते हुए इसको अपनी कमाई का धंधा बना लिया है।

यूपी के अलीगढ़ में अवैध रूप से एक घर में चल रही नकली सैनिटाइजर बनाने की फैक्ट्री का आबकारी विभाग व देहली गेट पुलिस की संयुक्त टीम ने जानकारी मिलने पर छापेमार कार्यवाही की गई। तो नकली सेनेटाइजर फैक्ट्री का पर्दाफाश हुआ है। तो वही जेएन मेडिकल कॉलेज रोड़ पर पुलिस ने गश्त के दौरान रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले युवक के पास से चार रेमडेसिविर बरामद कर युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

घटना थाना देहली गेट खैर बाईपास इलाके के गढ़ पुरम कॉलोनी की है। जहा आबकारी विभाग और इलाका पुलिस की संयुक्त टीम के साथ अवैध रूप से चल रही सैनिटाइजर बनाने की फैक्ट्री पर छापेमारी की कार्यवाही करते हुए पुलिस ने नकली सेनिटाइजर बनाने वाली फैक्ट्री से भारी मात्रा में अवैध रूप में रखा हुआ अल्कोहल मिला। उनके पास से सेनेटाइजर भी काफी मात्रा में सीज किया किया गया है। यह 500ml की 2000 बोतल है। 200 एम एल की ढाई सौ बोतल है और 100 ml की भी काफी बोतल है और अन्य सामान बरामद हुआ है। यह लोग बिना लाइसेंस के काम कर रहे थे। इनके पास कोई रजिस्ट्रेशन नहीं मिला ना आबकारी विभाग की कोई संस्तुति इनके पास नहीं थी। सेनिटाइजर और उसको बनाने वाला अन्य सामान भी बरामद किया है।

तो वही जेएन मेडिकल रोड़ पर पुलिस गश्त के दौरान पकड़े गए युवक के पास से मौके पर ही चार रेमडेसिविर इंजेक्शन भी बरामद किए गए। जिन रेमडेसिविर इंजेक्शन को इस युवक के द्वारा कई गुना कीमत पर लोगों को बेचा जाता था।

जेएन मेडिकल रोड़ पर पुलिस टीम ने गश्त के दौरान कोतवाली बन्नादेवी मेलरोज बाईपास निवासी वीरेन्द्र बघेल को पकड़ा गया। पुलिस ने पकड़े गए युवक की तलाशी पर उसके पास से चार रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किये गए। युवक के द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की MRP 3900 रुपए बताई गई। पुलिस ने इन इंजेक्शनो को 35 से 40 हजार रुपये में रेमडेसिविर बेचते हुए इस युवक को पकड़ा। पुलिस ने बरामद किए गए चारों रेमडे सिविर इंजेक्शन को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजते हुए युवक के खिलाफ ड्रग एक्ट के तहत पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया गया है।

जहां आबकारी विभाग और थाना दिल्ली गेट पुलिस को जानकारी मिली थी। कि खैर बाईपास कलावती के पास गढ़ पुरम कॉलोनी के नितिन उर्फ केशव देव के घर में अवैध रूप से चल रही नकली सैनिटाइजर बनाने की फैक्ट्री की जानकारी मिली थी। जिसके बाद दोनों टीमों ने एक संयुक्त टीम बनाकर नकली सेनेटाइजर फैक्ट्री पर छापेमारी कार्यवाही की तो वहां रखी सिसियों में भारी मात्रा में नकली सैनिटाइजर भरा हुआ बरामद किया।तो वही फैक्टरी में रखे प्लास्टिक के ड्रमों में भी सेनेटाइजर भरा हुआ रखा था। इस अवैध रूप से चल रही नकली सेनेटाइजर बनाने की फैक्ट्री को आबकारी विभाग की टीम के द्वारा सील कर दिया है।

हेमेंद्र चौधरी आबकारी विभाग के अधिकारी के बताए अनुसार घर के अंदर चोरी छुपे नकली सेनेटाइजर लोगों के द्वारा बनाया जा रहा था। लगभग दो लाख रुपए कीमत का नकली सेनेटाइजर मौके से पकड़ा गया। आबकारी विभाग की तरफ से थाना देहली गेट पर ड्रग एक्ट के तहत दोषियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

liveupweb
the authorliveupweb