congressUPUTTAR, PRADESH,varanasi

कांग्रेस पिछड़े समाज को भागीदारी देकर प्रदेश में बनाएगी सरकार:अशोक विश्वकर्मा

वाराणसी 4 जुलाई। ऑल इंडिया यूनाइटेड विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के नवनियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक कुमार विश्वकर्मा ने आज स्थानीय प्रेस क्लब में पत्र प्रतिनिधियों से वार्ता करते हुए कहा शोषित वंचित उपेक्षित निराश एवं भेदभाव के शिकार  अति पिछड़े समाज को कांग्रेस पार्टी सम्मान एवं भागीदारी देकर उनके बिखराव को रोकेगी तथा उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा मौजूदा भाजपा की सरकार ने पिछड़ी जातियों को सिर्फ वोट के लिए इस्तेमाल किया और भागीदारी से वंचित अपमानित कर धोखा दिया। इतना ही नहीं पिछड़े वर्ग के आरक्षण को समाप्त करने का षड्यंत्र कर समानता के संवैधानिक अधिकारों से वंचित करने का काम किया है। उन्होंने बताया कि अति पिछड़े विश्वकर्मा शिल्पकार समाज के हजारों लोग भाजपा सपा बसपा की उपेक्षा से क्षुब्ध  होकर गत दिनों लखनऊ कांग्रेस पार्टी कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की उपस्थिति में सदस्यता ग्रहण कर पार्टी में शामिल हो गए। उन्होंने कहा पार्टी में शामिल होने से पहले समाज के व्यापक हितों से जुड़े हुए  मांगों पर सभी दलों के नेताओं से वार्ता की गई  जिसे सभी ने नकार दिया कांग्रेस पार्टी ने समाज से जुड़े हुए सभी मांगों को स्वीकार करते हुए सत्ता एवं संगठन में समुचित भागीदारी देने का वचन दिया है। जिसमें प्रमुख रुप से विश्वकर्मा पूजा पर्व 17 सितंबर का सार्वजनिक  अवकाश समाज के आर्थिक बेहतरी और विकास के लिए माटी कला बोर्ड की भांति शिल्प कला बोर्ड की स्थापना विधानसभा चुनाव में टिकट देकर सत्ता एवं संगठन में समुचित भागीदारी सुनिश्चित करने का वचन दिया है तथा इन मांगों को घोषणा पत्र में भी शामिल किए जाने हेतु आश्वस्त किया है। उन्होंने कहा पार्टी ने यदि समाज की भावनाओं का समादर किया तो  प्रदेश की बिगड़ी हुई राजनीतिक सूरत को बनाने का काम विश्वकर्मा समाज के लोग करेंगे। प्रेस वार्ता में उपस्थित लोगों में प्रमुख रूप से राम नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष श्रीमती रेखा शर्मा नवनियुक्त प्रदेश सचिव श्रीकांत विश्वकर्मा मिर्जापुर जिला अध्यक्ष डॉ प्रमोद कुमार विश्वकर्मा वाराणसी जिला अध्यक्ष नंद लाल विश्वकर्मा भदोही जिला अध्यक्ष चंद्रशेखर विश्वकर्मा सहित सुरेश विश्वकर्मा महेंद्र विश्वकर्मा भैरव विश्वकर्मा रमेश विश्वकर्मा आदि लोग थे।

liveupweb
the authorliveupweb