TopUPvaranasi

Varanasi : हर्षोल्लास के साथ मनाया गया 75वां स्वतंत्रता दिवस, कमिश्नरी में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजपत राम ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया

वाराणसी। रविवार को 75वां स्वतंत्रता दिवस मंडल एवं जनपद में पूरे हर्षोल्लास एवं सादगी के साथ मनाया गया। कमिश्नरी कार्यालय भवन पर कमिश्नरी कार्यालय के वरिष्ठता चतुर्थ श्रेणी दफ्तरी राजपत राम, कलेक्ट्रेट कार्यालय भवन पर जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, विकास प्राधिकरण में वीसी ईशा दुहन, विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी अमित गोयल सहित सभी सरकारी एवं अर्द्ध सरकारी भवनों पर राष्ट्र के आन-बान-शान का प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कमिश्नरी कार्यालय भवन पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने लोगों को स्वतंत्रता दिवस बधाई देते हुए कर्तव्य बोध कराया।

कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कहां की वर्तमान में पूरा का पूरा क्षेत्र बाढ़ की विभीषिका से भरा है। जो सोचने पर मजबूर करता है कि हम अपने आने वाले पीढ़ी के लिए किस तरह का पृथ्वी छोड़कर जा रहे हैं। बाढ़ की विभीषिका प्राकृतिक त्रासदी है लेकिन इसके प्रभाव को बढ़ाना-घटाना मनुष्य के हाथ में है। उन्होंने कहा कि एक समय था कि जब हम किताबों में पर्यावरण को दूषित होने व क्लाइमेट चेंज के विषय में पढ़ते थे, लेकिन आज हम अपने जीवन में इसकी प्रतिक्रिया व परिणाम भुगत रहे हैं। इसके निवारण के लिए सब यही सोच रहे हैं कि कौन सबसे पहला कदम उठाए। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि हम लोग यही समझते हैं कि शायद हम इससे नहीं लड़ सकते, लेकिन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के आजादी के लड़ाई से सीख ले, कि उस समय भी कुछ लोग यही सोचते थे कि इतनी बड़ी हुकूमत को हराया जा सकता है? लेकिन हमारे स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने ब्रिटिश हुकूमत की चूलें हिला दी और भारत मां को गुलामी की जंजीर से आजाद करा दी। उन्होंने बताया कि आज जगह-जगह लैंडस्कैपिंग हो रही है, नदियों के किनारे बस्तियां बस रही हैं, ग्राउंड वाटर दूषित हो रहा हैं, जो चिंता का विषय है। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने स्वतंत्रता दिवस के इस पावन पर्व पर प्रकृति एवं पर्यावरण को बचाने के लिए लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि प्रकृति एवं पर्यावरण को बचाने के लिए हम सभी को जागरुक एवं सजग रहने के साथ ही अपने कर्तव्य का पालन करना होगा। इसके लिए उन्होंने लोगों से संकल्प लेने की आवश्यकता पर विशेष जोर दिया। कमिश्नर दीपक अग्रवाल में अवसर पर राजपत राम को अंगवस्त्र पहनाकर एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया।

कलेक्ट्रेट कार्यालय भवन पर झंडारोहण पश्चात जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने मौके पर मौजूद अधिकारियों/कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हम लोग स्वतंत्रता दिवस की 75 वीं वर्षगांठ के गवाह बने हैं यह सौभाग्य की बात है। आजादी मिलने के बाद देश में अराजकता का माहौल था। लोगों को लगता था कि देश अपने आप में एक स्वतंत्र राष्ट्र रह पाएगा या नहीं, लेकिन देश के लोगों ने उस समय जो दृढ़ संकल्प लिया था कि हम भारत को एक सफल देश बनाकर रहेंगे। यह उसी का नतीजा है कि आज देश एकता और अखंडता के साथ 75 वर्ष बीत जाने के बाद भी खड़ा है। इस दौरान कितनी विपरीत परिस्थितियों का सामना देश को करना पड़ा, युद्ध तक लड़ना पड़ा जिससे आर्थिक संकट का परिणाम देखने को मिला। बाढ़, सूखा, भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाएं कितनी बार आई लेकिन देशवासियों ने मिलकर आपदा से देश को निकाला।

उन्होंने कहा कि मजबूत इरादों का ही परिणाम है कि आज देश में विदेशी मुद्रा के भंडार हैं, अन्न का भंडार है, खेती और रोजगार के क्षेत्र में अपना परचम दूसरे देशों में भी लहरा रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों एवं कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा हमारा देश मजबूत स्थिति में खड़ा है और हमारा दायित्व है कि हम इसे और विकसित करके आगे ले जाएं। हमारे अधिकारियों/कर्मचारियों ने जिस तरह टीम भावना से विभिन्न परिस्थितियों कोविड काल, बाढ़ की स्थिति का मुकाबला, चुनाव की जिम्मेदारी के समय जिस टीम भावना से काम किया उसकी प्रशंसा प्रदेश व देश में की गई। वर्तमान में बाढ़ की स्थिति के समय सब ने मिलकर आमजन की हर तरह से सहायता की और उन्हें एहसास दिलाया की हम सब आपके साथ हैं।

जिलाधिकारी के निर्देशानुसार कोरोना कॉल के परिस्थितियों के दृष्टिगत स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को उनके घरों पर जाकर अधिकारियों ने सम्मानित किया। स्वतंत्रता दिवस पर जिलाधिकारी द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर में वृक्षारोपण कर आम और नीम के पौधे लगाये गये।

गौरतलब है कि कमिश्नर दीपक अग्रवाल कर्मचारियों के हौसला अफजाई का कोई अवसर नहीं छोड़ते। यह पहला मौका नहीं था जब उन्होंने अपने कार्यालय में दफ्तरी के पद पर कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजपत राम का हौसला अफजाई करने के लिए उनसे राष्ट्रीय पर्व पर राष्ट्रीय ध्वज फहरावाया हो। इससे पूर्व राष्ट्रीय पर्व पर कमिश्नरी कार्यालय भवन पर राष्ट्रीय पर्व पर जहां सफाई कर्मी चंदा देवी से राष्ट्रीय ध्वज फहरावाया था, तो कोरोना कॉल के दौरान राष्ट्रीय पर्व पर उन्होंने एएनएम से ध्वज फहराकर उनका हौसला अफजाई किया था।

राजपत राम कमिश्नरी में चतुर्थ श्रेणी के दफ्तरी पद पर तैनात हैं। वे अगले साल 31 अगस्त को सेवानिवृत्त होंगे। सौम्य, उदार स्वभाव एवं मृदुभाषी राजपत राम की जिम्मेदारी कमिश्नरी ऑडिटोरियम व मीटिंग हॉल की साफ-सफाई व मीटिंग आदि की व्यवस्था की है।

liveupweb
the authorliveupweb