TopUPvaranasi

मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने बाढ़ग्रस्त परिवारों तक पहुंचायी राहत सामग्री, कहा – आपदा की इस घड़ी में बाढ़ पीड़ितों के साथ खड़ी है शासन- प्रशासन

 वाराणसी। उत्तर प्रदेश के पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकॉल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी ने मंगलवार को अपने निर्वाचन क्षेत्र के बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा किया। विधानसभा के कोनिया क्षेत्र में मंत्री ने जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश, एनडीआरएफ व अन्य अधिकारियों संग बाढ़ के पानी से घिरे मकानों का अवलोकन किया तथा राहत सामग्री वितरित की।


विगत दिनों से गंगा नदी में जलस्तर की वृद्धि लगातार हो रही है, जिसकी वजह से तटवर्ती क्षेत्र जलमग्न हो गए हैं। किनारे बसे इलाकों में बाढ़ के वजह से मकानों के निचला हिस्सा पूर्ण रूप से पानी मे डूब गया है। क्षेत्र में रहने वाले आम नागरिकों को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े इसके लिए मंत्री डॉ0 नीलकंठ तिवारी ने अधिकारियों संग नाव से बाढ़ पीड़ितों के पास गए और उनका कुशलक्षेम जानने के बाद उन्हें को राहत सामग्री वितरित किया। प्रत्येक राहत पैकेट में एक व्यक्ति के लिए 42 दिन का राशन दिया गया है। मंत्री नीलकंठ तिवारी ने पीड़ित परिवारों से बात कर उनकी स्थिति को जाना तथा कहा कि जब तक पानी इलाकों से निकल नही जाता, तब तक राहत सामग्री वितरित होता रहेगा।

 करीब तीन घंटे बाढ़ क्षेत्र में भ्रमण के दौरान मंत्री ने जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को राहत प्रबंधन के संदर्भ में आवश्यक निर्देश दिए। एनडीआरएफ समेत कुल 6 नावों से सैकड़ों की संख्या में राहत पैकेट बांटे गए। इसके अलावा जोनल कार्यालय आदमपुरा पर भी करीब 150 लोगों को राहत सामग्रीबांटी गई।


    मण्डल अध्यक्ष नलिन नयन मिश्र, पार्षद शिवप्रकाश मौर्य, रवि सोनकर, लकी भारद्वाज, विकास उपाध्याय, समेत तहसीलदार सदर व अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

liveupweb
the authorliveupweb