TopUPvaranasi

राहत : NDRF बनी देवदूत, वाराणसी में लाया गया ऑक्सीजन प्लांट

वाराणसी। वैश्विक महामारी कोविड-19 की दूसरी लहर से पूरा देश जूझ रहा है और इससे मरीजों के मध्य ऑक्सीजन की सतत आपूर्ति की आवश्यकता महसूस हो रही है।इस संकट की घड़ी में मित्र देश भारत को सहयोग करते हुए मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट व अन्य महत्वपूर्ण चिकित्सीय सहायता उपलब्ध करवा रहे हैं। एनडीआरएफ विदेशों से आयातित ऑक्सीजन प्लांट को विभिन्न राज्यों के चयनित अस्पतालों तक सड़क मार्ग से सुरक्षित पहुंचा कर इनके इंस्टॉलेशन में अपनी अग्रिम भूमिका निभा रहा है। जिससे मरीजों को ऑक्सीजन की उपलब्धता निर्बाध रूप से मिलती रहे।

ये ऑक्सीजन प्लांट अमेरिका,इजराइल,जर्मनी,इटली व आयरलैंड से आयातित किए गए हैं। जिसे दिल्ली, फरीदाबाद, नोएडा, कर्नाटक व वाराणसी के अस्पतालों में एनडीआरएफ की तकनीकी टीम की सहायता से स्थापित किया गया है।

वाराणसी को मिली नई सौगात जनमानस में हर्ष की लहर

इस कड़ी में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में इजराइल से आयातित 500 लीटर प्रति मिनट की ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता वाला ऑक्सीजन प्लांट वाराणसी लाने का दायित्व 11 एनडीआरएफ की टीम को सौंपा है, जिसे सड़क मार्ग से सुरक्षित लाकर ईएसआईसी अस्पताल पांडेपुर में प्रशासन व अस्पताल प्रबन्धन के सहयोग से स्थापित किया गया है।

इस इस अवसर पर एनडीआरएफ वाराणसी के कमांडेंट मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि एनडीआरएफ उत्तर प्रदेश के आपदा प्रबंधन में सदैव उत्कृष्ट व अग्रणीय भूमिका निभाती रही है। पिछले वर्ष से जारी करोना संकट के प्रबंधन में राज्य के विभिन्न स्थानों में रासायनिक छिड़काव द्वारा सेनिटाइजेशन, कोविड संक्रमण के प्रति जागरूकता तथा श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में प्रशासन के सहयोग से भोजन वितरण भी किया गया है और आज की आपातकालीन स्थिति में कोरोना महामारी से निपटने के लिए एनडीआरएफ संकल्पबद्ध है।

ईएसआईसी हॉस्पिटल में यह आक्सीजन प्लांट लगने से कोविड रोगियों को आक्सीजन सुलभ तरीके से उपलब्ध हो सकेगी। इस पहल से अस्पताल में ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति हो रही है l

liveupweb
the authorliveupweb