SOCIALUPup GogermentUtter Pradeshvaranasi

जनपद में आज मनाया जाएगा प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस

नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर प्रसव पूर्व नि:शुल्क जांच कराएं
– कोविड-19 प्रोटोकॉल का रखा जाएगा पूरा ध्यान  

वाराणसी, 08 जून 2021
कोविड-19 के चलते स्थगित चल रहे स्वास्थ्य विभाग के नियमित कार्यक्रम फिर से कोविड प्रोटोकाल के पालन के साथ शुरू हो रहे हैं । शासन से भी इसकी हरी झंडी मिल चुकी है | मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ वीबी सिंह ने बताया – नौ जून को जनपद के ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के सभी प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के साथ ही जिला महिला चिकित्सालय, एलबीएस चिकित्सालय रामनगर में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान  (पीएमएसएमए) दिवस मनाया जाएगा। इस दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन कराया जाएगा । इस दिन गर्भवती अपने नजदीकी सरकारी अस्पताल में जाकर नि:शुल्क प्रसव पूर्व जांच करा सकती हैं। पीएमएसएमए के मौके पर ही पहली बार गर्भवती हुई महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) में पंजीकृत भी किया जाता है ।


सीएमओ ने कहा कि उच्च जोखिम गर्भावस्था (हाई रिस्क प्रेगनेंसी) के बारे में पहले से पता लगाने के लिए प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) जरूरी हैं। उन्होने कहा कि सभी स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, चिकित्सा अधीक्षक व जिला महिला चिकित्सालय व एलबीएस चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक अपने केंद्र पर कम से कम 100 एएनसी जो दूसरे व तीसरे तिमाही की हैं, को इस दिवस सेवा देना सुनिश्चित करें।
सीएमओ ने बताया – हर माह की नौ तारीख को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत गर्भवती की जांच नि:शुल्क की जाती है। उन्होंने बताया सबसे पहले गर्भवती को अपने खाने-पीने पर ध्यान देने की जरूरत है। खाने में हरी सब्जियां, दूध, फल और दाल जैसी चीजें शामिल करते हुए पौष्टिक  भोजन लें और स्वस्थ रहें।


कोविड-19 से ऐसे बचें – सीएमओ ने कहा कि कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए गर्भवती को कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए। बीमार लोगों से बिल्कुल भी न मिलें, भीड़भाड़ वाली जगहों पर न जाएं। जहां तक संभव होशादी-विवाह  में भी जाने से बचें। व्यक्तिगत सफाई और खानपान का विशेष ध्यान रखें। चिकित्सक की राय से आयरन, कैल्शियम और फोलिक एसिड की गोलियां नियमित रूप से लें।
लगातार व्यायाम करें – राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबन्धक संतोष सिंह का कहना है कि गर्भवती खुद को स्वस्थ रखने के लिये दिन में कम से कम 30 मिनट योगा जरूर करें। इसके साथ वह चिकित्सक की राय से व्यायाम भी करें। रोजाना खूब पानी पिएं जिससे शरीर में पानी की कमी न हो । अपने डेली रूटीन का खास ध्यान रखें। समय पर सोएं और समय पर उठें। कम से कम सात से आठ घंटे की नींद जरूर लें।
मानसिक रूप से मजबूत रहें – गर्भावस्था के दौरान महिलाएं बहुत सारे मानसिक और भावनात्मक उतार-चढ़ाव से गुजरती हैं।  इस वक्त मानसिक रूप से बहुत अधिक मजबूत होने की जरूरत होती है, क्योंकि एक मां की सेहत के साथ ही उनके गर्भ में पल रहे बच्चे पर उनके मनोभावों का बहुत अधिक असर होता है। परिवार के सदस्य गर्भवती को मानसिक और भावनात्मक रूप से मजबूत करने में मदद करें।
——–

liveupweb
the authorliveupweb