HealthTopUPvaranasi

सलाम : नर्स की ड्यूटी के साथ मां का भी फर्ज निभा रहीं रीतू


जनता को कोरोना की वैक्सीन, तो वहीं बेटी को देती हैं शिक्षा
अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी नर्सों को सलाम


वाराणसी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वीबी सिंह ने बताया कि प्रत्येक वर्ष 12 मई को दुनिया भर में नर्सिंग की संस्थापक फ्लोरेंस नाइटिंगेल का जन्मदिवस अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के रूप में मनाया जाता है। मौजूदा स्थिति में कोविड टीकाकरण बहुत ही चुनौती पूर्ण सेवा है। हम सभी का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करके जनमानस को लाभान्वित करना है और सभी को कोविड से बचाना है। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से जनपद में कार्यरत सभी नर्सों को सलाम कर सम्मान दिया । इस कार्य में बहुत ही महत्वपूर्ण दायित्व का निर्वहन किया है जिला महिला चिकित्सालय में टीकाकरण कर रही एएनएम रीतू चौबे ने।


कहते हैं कि वह जीत महत्वपूर्ण नहीं होती जिसमें इंसान परचम लहराता है बल्कि जीत वह महत्वपूर्ण होती है जो डर पर विजय कराती है। वर्तमान समय में सबसे बड़ा कार्य है कोरोना को हराना। इस भय पर जीत कर ली है जिला महिला चिकित्सालय में तैनात एएनएम (औक्सिलरी नर्स मिडवाइफ़) रीतू चौबे ने, जोकि इस विषम परिस्थिति में भी माँ व नर्स की ड्यूटी एक साथ निभा रही हैं। रीतू चौबे 16 जनवरी से आज तक लगातार कोविड टीकाकरण की ड्यूटी कर रही हैं। उनको मार्च में एक बार बुखार आया था। उन्होने ने बताया कि सिर्फ दो दिन दवा लिए, बुखार ठीक हो गया था। फिर आज तक कोई समस्या नहीं हुई। रीतू चौबे की बेटी महक बीसीए की छात्रा है कॉलेज बंद होने के कारण महक ऑनलाइन क्लास अटेंड करती रही। रीतू काम के बीच में महक का हाल पूंछती रहती थी ऐसे में रीतू अपनी घर की ज़िम्मेदारी तथा बच्चों की शिक्षा व देखभाल को निभाते हुये, नर्स की भी ड्यूटी बखूबी निभा रही हैं।


रीतू चौबे ने बताया कि कोरोना से डरना नहीं है, हम सभी को सिर्फ वायरस के प्रति जागरूकता की जरूरत है। कोरोना वायरस के संक्रमण में हम सभी को सहयोग के साथ इस बीमारी पर जीत हासिल करनी है। बस हमारा एक ही उद्देश्य रहता है सभी लाभार्थी टीकाकरण के बाद हँसते हुए घर जाएँ। वह कहती हैं कि बहुत खुशनसीब हैं कि वह नर्स हैं। हम खुशनसीब हैं कि देश में आई आपदा में आये विपत्ति पर मानव सेवा का मौका मिला, किसी तरह की कोई डर नहीं है। घर में रहे, बाहर न जाएँ। अगर घर से बाहर जाएं, तो तीन सतह का सूती कपड़े का मास्क का प्रयोग, समय-समय पर हाथों को सेनेटाइज करते रहें तथा सामाजिक दूरी का पालन जरूर करें जिससे आप स्वस्थ बने रहेंगे।

liveupweb
the authorliveupweb