Big NewsCrimeSultanpurUP

Sultanpur : 14 दिनों से डीप फ्रीजर में रखा बेटे का शव, इंसाफ़ के लिए गुहार लगा रहा रिटायर्ड फौजी

Courtesy Google

सुल्तानपुर। यूपी के सुल्तानपुर में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां क पिता ने अपने बेटे की लाश को 15 दिनों से डीप फ्रीजर में रखा है। पिता का कहना है कि उसके बेटे की हत्या की गई है। पिता ने इंसाफ के लिए तमाम उच्चाधिकारियों के दरवाजे खटखटाए, लेकिन न्याय नहीं मिला। पीड़ित पिता ने अब अदालत की शरण ली है।

सुल्तानपुर जिले के कूड़ेभार थाने के सरैया मझौवा गांव के रहने वाले रिटायर्ड सूबेदार शिवप्रसाद पाठक के बेटे की संदिग्ध परिस्थितियों  में मौत बीते 1 अगस्त को दिल्ली में हो गई थी। मौत के बाद दोबारा पोस्टमार्टम कराने के लिए पिता रिटायर्ड सूबेदार शिव प्रसाद पाठक न्यायालय से लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर फरियाद कर रहा है जिसकी वजह से वह अपने बेटे का शव पिछले 15 दिनों से डीप फ्रीजर में रखे बैठा है।

 पिता ने बताया कि बड़ा बेटा शिवांक दिल्ली में वर्ष 2012 में एक कॉल सेंटर में नौकरी करता था। इस बीच शिवांक ने दिल्ली में 24 अप्रैल 2012 को एक व्यक्ति के साथ मिलकर टैक्सीगो नामक कंपनी खोली। कंपनी के पार्टनर ने दिल्ली की ही रहने वाली एक युवती गुरलीन कौर को एचआर के पद पर नियुक्त किया था। शिवांक ने इसी युवती के साथ 2013 में शादी कर ली थी। पिता का आरोप है कि शिवांक के नाम काफी संपत्ति थी, जिस पर युवती की नजर थी। इसी बीच बीते 1 अगस्त को दिल्ली में उसके बेटे शिवांक की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। पीड़ित पिता कह रहे हैं कि उसके बेटे की हत्या की गई है।

पिता ने बताया कि पुलिस ने उनके बेटे की मौत में केस दर्ज नहीं किया और शव को पोस्टमार्टम होने के बाद उन्हें सौंप दिया। इसके बाद शिवांक के शव को लेकर 3 अगस्त को गांव आ गए। बेटे की मौत से पर्दा उठाने के लिए पिता ने कूरेभार थाने की पुलिस को सूचना दी। लेकिन उनकी एक न सुनी गई इसके बाद पिता खुद ही डीप फ्रीजर खरीद कर घर ले आए और उसमें अपने जिगर के टुकड़े का शव रखकर इंसाफ की लड़ाई शुरू कर दी।
 बता दें कि शिवप्रसाद पाठक सेना में सूबेदार थे। रिटायर होने के बाद वो गांव आ गए। शिव प्रसाद पाठक के परिवार में पत्नी के साथ ही दो बेटे और दो बेटियां हैं। दोनों बेटियों की शादी हो चुकी है।

liveupweb
the authorliveupweb