TopUPvaranasi

Varanasi : मुख्य सचिव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से 10 करोड़ रुपये से ऊपर के परियोजनाओं का किया समीक्षा

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आर के तिवारी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से काशी में 10 करोड़ रुपये से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं के प्रगति, परियोजनाओं में उपयोगिता प्रमाण पत्रों के प्रेषण व धन राशि की उपलब्धता, भविष्य हेतु प्रस्तावित परियोजनाओं आदि की विस्तृत समीक्षा की।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने परियोजनाओं की बिंदुवार प्रगति का प्रस्तुतीकरण किया। बैठक में बताया गया कि शाही नाला के कार्य हेतु 30 कुशल मजदूर बंगाल से आ गए हैं और तेजी से कार्य हो रहा है। इंडस्ट्रियल एरिया करखियाव में अवस्थापना सुविधाओं के सुदृढ़ीकरण हेतु 6.5 करोड रुपए अभी नया अवमुक्त हो गया है, शीघ्र व्यवस्था सुदृढ़ की जाएंगी।

औद्योगिक आस्थान चांदपुर में 10 करोड़ रुपये से ड्रेनेज, सड़कों आदि के कार्य कराए जा रहे हैं। चांदपुर में फ्लैटिड फैक्ट्री की वर्टिकल बिल्डिंग बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है। कोविड की थर्ड वेब के कंट्रोल हेतु बीएचयू को 15 करोड़ रुपए मशीनों, उपकरणों, दवाओं आदि आवश्यक सामग्री हेतु उपलब्ध करा दिए गए हैं। सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल क्रियाशील होगा। वाराणसी-गोरखपुर, वाराणसी-सुल्तानपुर व घाघरा ब्रिज के लिंक रोड चौड़ीकरण कार्य सीमा पूर्ण हो जाएंगे।

मुख्य सचिव आर के तिवारी ने कहा कि परियोजनाएं समयबद्धता व गुणवत्ता से पूर्ण हो। पूर्ण होने के लिए जिन परियोजनाओं में बार-बार टाइमलाइन बढ़ाई जा रही है, उनमें विलंब के लिए संबंधित की जिम्मेदारी तय कर कार्यवाही की जाए। आवश्यकतानुसार लखनऊ से विभागीय उच्चाधिकारी जनपद में भ्रमण कर कार्यों में गतिशीलता बढ़वाये।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के उपरांत जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि कार्यों में तेजी हेतु संसाधन यथा-मशीनें व मैन पावर बढ़ाए। इस समय कार्यों में किसी तरह की शिथिलता रहने पर कार्यवाही होगी। वाराणसी के कार्यों की राज्य व केंद्र में उच्च स्तर पर सघनता से समीक्षा होती है। बिना किसी ठोस कारण के परियोजना कार्य में विलंब होना भारी पड़ सकता है।

इस अवसर पर नगर आयुक्त, वीसी वीडीए सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

liveupweb
the authorliveupweb