TopUPvaranasi

Varanasi Flood : बाढ़ पीड़ित प्रभावित क्षेत्रों में सपा ने बांटी राहत सामग्री, सरकार की व्यवस्था को बताया नाकाफी

वाराणसी। वाराणसी की बाढ़ से प्रभावित हुए इलाकों में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर सपाइयों ने राहत सामग्री बांटी। सपा महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा के नेतृत्व में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में समाजवादी रसोई के माध्यम से शास्त्री घाट से लेकर पुलकोहना पुरानेपुल आदि इलाकों तक दौरा कर जाकर पीड़ितों को खाद्यय सामग्री वितरित किया।


 इस दौरान सपा महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा,महानगर महासचिव जितेंद्र यादव, वरिस्ठ नेता डॉ ओपी सिंह, पूर्व प्रदेश सचिव हरीश नारायण सिंह बग्गड़, पार्षद दल के नेता कमल पटेल, पार्षद प्रतिनिधि विज्जु विश्वकर्मा, महानगर मीडिया प्रभारी संदीप शर्मा, उत्तरी अध्यक्ष अजय चौधरी, दक्षिणी अध्यक्ष शमीम अंसारी, कैन्ट अध्यक्ष दिलीप कश्यप, सैनिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष अवधेश यादव, महिलासभा अध्यक्ष पूजा यादव, अल्पसंख्यक सभा अध्यक्ष जावेद अंसारी आदि रहे।

सपा महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा ने कहा कि वाराणसी में गंगा  किनारे और गंगा की सहायक नदी वरुणा के किनारे बसे हजारों घरों में बाढ़ का पानी घुसने से जलप्रलय जैसे हालात पैदा हो चुके है। जिससे बचने के लिए लोगों का पलायन भी शुरू हो चुका है। लोगों बाढ़ प्रभावित स्थानों से कहीं और या फिर बाढ़ राहत शिविरों का रुख कर रहें हैं, लेकिन वहां भी व्यवस्था नाकाफी साबित हो रही है। यूपी के कई जिलों में नदियों के बढ़ते जलस्तर के चलते जलप्रलय जैसे हालात पैदा हो चुके हैं। गंगा के अलावा कई नदियां उफान पर हैं, जिससे नदियों के किनारे बने रिहायशी इलाकों में भी पानी घुस चुका है।वाराणसी में गंगा का जलस्तर खतरे के निशान को भी पार कर चुका है और अभी भी बढ़ाव जारी है।

विष्णु शर्मा ने बताया कि वाराणसी के वरुणा किनारे के बुनकर और मजदूर बहुल इलाकों में सरैया, अमरपुर बटलोहिया, शैलपुत्री, सिंधवाघाट, नक्खीघाट, पुरानापुल, कोनिया, पुलकोहना और दिनदयालपुर के लाखों लोगों की हालत ज्यादा खराब है।क्योंकि यह तबका निहायत ही गरीब है और पूरी तरह से किसी भी तरह की आपदा में शासन-प्रशासन पर आश्रित हो जाता है।

 शर्मा ने बताया कि शैलपुत्री मड़िया के बाढ़ पीड़ित लोगों ने बताया कि सरकार की तरफ से कोई मदद नहीं मिली है, बाढ़ से बचने के लिए सड़क पर तिरपाल डालकर रहना पड़ रहा है। सरकारी मदद के बारे में कोई बताने तक नहीं आया। तो वहीं कही अन्य ने भी बताया कि किसी भी तरह के बाढ़ राहत शिविर की जानकारी नहीं दी गई है। बाढ़ से बचने के लिए या तो रोड पर रहना पड़ रहा है या तो रिश्तेदारों के यहां आसरा लेना पड़ रहा है।

वरुणा व गंगा नदी के किनारे बाढ़ से ग्रसित लोगों के साथ शहर के भी अन्य इलाकों में जलजमाव की स्तिथि लगातार बनी हुई है, जैसे कि तेलियाना, हनुमान फाटक, छोहरा, जैतपुरा, राजपुरा आदि इलाकों में बीते दिनों हुए वर्षा का जलजमाव अभी तक है, पानी सड़ने लगा है जिससे अन्य बीमारियों के होने का डर है। इस संदर्भ में नगर आयुक्त प्रणय सिंह से वार्ता कर उन्हें अवगत कराया तो तत्काल नगर आयुक्त जलमग्न क्षेत्र मे दूषित पानी को निकालने के लिए टीम को रवाना करने का निर्देश दिया व आश्वस्त किया कि जल्द ही समस्या का निस्तारण हो जाएगा।

राहत सामग्री वितरण कार्यक्रम में सपा महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा,महानगर महासचिव जितेंद्र यादव, वरिस्ठ नेता डॉ०ओ०पी०सिंह, पूर्व प्रदेश सचिव हरीश नारायण सिंह बग्गड़, पार्षद दल के नेता कमल पटेल, पार्षद प्रतिनिधि विज्जु विश्वकर्मा,  महानगर मीडिया प्रभारी संदीप शर्मा, उत्तरी अध्यक्ष अजय चौधरी, दक्षिणी अध्यक्ष शमीम अंसारी, कैन्ट अध्यक्ष दिलीप कश्यप महिलासभा अध्यक्ष पूजा यादव, अल्पसंख्यक सभा अध्यक्ष जावेद अंसारी, हैदर गुड्डू, इस्तियाक अहमद ,मोहम्मद ईमरान, अभिजीत यदुवंशी,ईशु गौतम मोहम्मद शालिम आदि लोग उपस्थित रहे।

liveupweb
the authorliveupweb