BJPPoliticsTopUPvaranasi

Varanasi : मोक्षदायिनी पवित्र माँ गंगा के स्वरूप को खत्म करना चाहती है मोदी-योगी सरकार : अजय राय

वाराणसी। एक बयान जारी कर पूर्व मंत्री उ0प्र0 सरकार अजय राय ने कहा की काशी में आदि-अनादि काल से अर्द्ध चंद्राकार में प्रवाहित हो रही मोक्षदायिनी पवित्र माँ गंगा के स्वरूप को खत्म करना चाहती है मोदी-योगी सरकार।माँ गंगा का तथाकथित पुत्र बने घूम रहे देश के प्रधानमंत्री व काशी के सांसद नरेन्द्र मोदी ने सिर्फ और सिर्फ माँ गंगा के नाम पर काशीवासियों को ठगा है।आज बदहाल स्तिथी में गंगा का पानी हो गया है।

नालों के गिरने का क्रम आज तक जारी है।और अब यह सरकार उस पार नहर का निर्माण कर रही है।जिसका सीधा प्रभाव माँ गंगा के वतर्मान स्वरूप पर पड़ेगा।बिना विशेषज्ञयों के अनुमति के बिना यह सरकार ने गंगा के मूल रूप से खिलवाड़ किया है।इसका सीधा मतलब यह है की उद्योगपतियो द्वारा संचालित यह वर्तमान सरकार बाजारीकरण के लिए यह कार्य कर रही है।सफाई के नाम पर इस सरकार ने सिर्फ लूट मचाया है।सन्त रविदास घाट के निकट गंगाजल काला हो गया है।गंगा का प्रवाह अत्यंत मंद हो गया है।कई घाटो पर गंगाजल इन दिनों हरा दिख रहा है।

जलस्तर पहले की अपेक्षा नीचे जाता दिख रहा है और कई जगहों पर तो सीढ़ियों से गंगाजल का सम्पर्क ही टूट गया है।परंतु इन सब समस्याओं को ताख पर रखकर यह सरकार फिजूल खर्च कर बाजारीकरण के उद्देश्य से उस पार रेती पर नए नहर का निर्माण कार्य करने में जुटी है।इस विषय पर गंगा वैज्ञानिको,विशेषज्ञ व अन्य जानकारों ने भी अपनी चिन्ता व्यक्त की परन्तु यह सरकार अपने अहंकार में चूर है।गंगा के समानांतर नहर बनाना विशुद्ध रूप से अमानवीय कृत्य है।नहर के आकार माँ गंगा के अस्तित्व के लिए काल के रूप में है।करोड़ो रूपये व्यव कर यह सरकार नए समस्याओं को जन्म दे रही है।

मोदी-योगी सरकार ने सिर्फ जनता को भ्रमित किया है व काशी को लूट का अड्डा बना दिया फिजूलखर्ची कर जनता के पैसों को यह सरकार बर्बाद कर रही है।सरकार अभी तक स्पष्ट नही कर पा रही की उस पार नहर बनाने से क्या फायदा होगा।यह सरकार काशी की जनता को अंधेरे में रखकर गुमराह करके काशी की अस्तित्व से खिलवाड़ कर रही है यह सरकार सनातन धर्म विरोधी सरकार है।माँ गंगा श्री नरेन्द्र मोदी के लिए बाजारीकरण का हिस्सा है परंतु हम काशीवासियों के लिए माँ गंगा आस्था का प्रतीक है।

ऐसे में माँ गंगा स्वरूप से छेड़छाड़ करने पर हम काशीवासी चुप नही रहेंगे सरकार अपनी मंशा को स्पष्ट करे।व अपने जनविरोधी फैसले को तत्काल वापस ले।हम मांग करते है की उस पार नहर का कार्य तत्काल प्रभाव से बन्द हो व माँ गंगा के मूल-स्वरूप पर कार्य हो।यह सरकार अहंकार में चूर होकर जनविरोधी फैसलों को लागू कर रही है पर याद रहे काशी वासी माकूल जबाब देंगे।

liveupweb
the authorliveupweb