Uncategorized

वाराणसी :- राम अचल राजभर ने मायावती के खिलफ बनाया संघर्ष मोर्चा , छोटे डालो के साथ बड़े लक्ष्य को  जुटे राम अचल राजभर वाराणसी में बैठक कर  किया एलान 

वाराणसी:- सारनाथ  भगवान बुद्ध की तपोस्थली में राजभर समाज कुल गौरव महाराज सुहेलदेव के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर आर्शीवाद लेते हुए विश्व विख्यात काशी की धरती पर रामअचल राजभर संघर्ष मोर्चा के तत्वाधान में वाराणसी मण्डल के अपने समर्थकों एवं शुभचिन्तकों एवं प्रबुद्धिजनों की बैठक बुलाई गयी।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रामअचल राजभर पूर्व राष्ट्रीय महासचिव, प्रदेश अध्यक्ष, विधायक अकबरपुर की देखरेख में आम सहमति से यह तय किया गया कि 2022 में अपने संतों, गुरुओं, महापुरुषों तथा राजनीतिक गुरु ,बहुजन नायक मान्यवर कांशीराम साहब के बताये हुए रास्ते पर चलकर राजभर समाज संहित बहुजन समाज को शासन सत्ता में सामाजिक मान-सम्मान हिस्सेदारी भागीदारी दिलायेंगे।

इसी तरह का कार्यक्रम प्रदेश के सभी मण्डलों तथा जिलों में आयोजित किया जायेगा तत्पश्चात् हम अपनी आगामी रणनीति तय करेंगे। डा0 रमाशंकर राजभर पूर्व राज्यमंत्री ने कहा कि  मुख्य अतिथि रामअचल राजभर के नेतृत्व में समाज को उचित भागीदारी दिलाने के लिये हम प्रबुद्धजन अन्तिम सांस तक संघर्ष करेंगे।

 एडवोकेट संजय राजभर ने मोर्चा के उद्देश्यों पर विस्तार रूप से चर्चा किया तथा डा0 सुभाष राजभर ने मोर्चा को अपनी मंजिल तक पहुँचाने पर बल दिया।

 इस अवसर पर प्रमुख रूप से सूबेदार राजभर, सिताराम राजभर, शिवधनी मौर्य, केशव राजभर, मोहन राजभर, सुरेश राजभर, धर्मेन्द्र राजभर, सत्येन्द्र राजभर, अच्छेलाल राजभर, एडवोकेट महेन्द्र राजभर, श्यामनरायण राजभर, श्रवण राजभर, प्रदीप राजभर, गोपाल राजभर, रमेश राजभर, सुरेन्द्र राजभर, दलसिंगार राजभर, रेखा राजभर, जयप्रकाश पटेल, रवि जायसवाल, राजेश राजभर कार्यक्रम की अध्यक्षता रामसेवक राजभर वरिष्ठ नेता व लोकसभा प्रभारी तथा संचालन हर्ष राजभर, पूर्व नगर अध्यक्ष, वाराणसी ने किया।

liveupweb
the authorliveupweb