policeTopUPvaranasi

Varanasi : एक्सीडेंट डाटा फिटिंग में वाराणसी को मिला पहला स्थान

वाराणसी। इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डेटाबेस (आईआरएडी) में वाराणसी ने उत्तर प्रदेश में पहला स्थान प्राप्त किया। आए दिन हो रही सड़क हादसों पर अंकुश लगाने के लिए केंद्र सरकार ने नई कवायद शुरू की है। भारत सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एनआईसी के साथ मिलकर एकीकृत सड़क सुरक्षा डाटा बेस तैयार करने के लिए ऐप विकसित किया है।

इंटीग्रेट रोड एक्सीडेंट डेटाबेस आई रेड ऐप पर जिले में होने वाली दुर्घटनाओं का विवरण दर्ज किया जाएगा। इसका अध्ययन आईआईटी मद्रास के विशेषज्ञ करेंगे। इसी आधार पर हादसों पर रोक लगाने की योजना तैयार की जा चुकी है, इस ऐप के लिए परिवहन विभाग और पुलिस विभाग के अधिकारियों अपर पुलिस उपायुक्त यातायात कॉमिसनेरेट विकास कुमार एवं जिला सूचना विज्ञान अधिकारी प्रसन्न पांडे, ARTO प्रशासन सर्वेश चतुर्वेदी के निर्देश में रोल आउट मैनेजर चन्द्रकांत तिवारी द्वारा समस्त थानाध्यक्ष/प्रभारी निरीक्षक को प्रशिक्षण दिया जा चुका है I

दुर्घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचने वाले पुलिसकर्मी को ऐप पर हादसे से जुड़ी जानकारी जैसे हादसे की तारीख समय दुर्घटना स्थल संबंधित वाहन दुर्घटना का संभावित कारण आदि अपलोड करना होगा। अपलोड होते ही पूरा विवरण स्वास्थ्य विभाग परिवहन विभाग और राष्ट्रीय राजमार्ग/PWD के पास पहुंच जाएगा। संबंधित विभाग अब इसमें अपने स्तर से कार्रवाई करेंगे।

इस ऐप में संबंधित विभागों का पूर्व में उपलब्ध डाटाबेस यथा वाहन रजिस्ट्रेशन, ड्राइविंग लाइसेंस, CCTNS, स्वास्थ्य, राजमार्ग डेटाबेस को इंटीग्रेटेड किया गया है, ताकि संबंधित उपलब्ध का उपयोग करके प्रभावी रूप से दुर्घटना का समुचित विवरण दर्ज हो सके तथा उसके आधार पर निवारण हेतु प्रभावी कार्यवाही की जा सके I

liveupweb
the authorliveupweb